गोदान उपन्यास

गोदान उपन्यास हिंदी PDF | Premchand Novel Godan PDF Download in Hindi  

गोदान उपन्यास हिंदी PDF | Premchand Novel Godan PDF Download in Hindi

Godan PDF Download: भारत में कई कवियों द्वारा कई तरह की रचनाएं की गई है और कई तरह के उपन्यास भी लिखे गए हैं जो कि, कई ऐसे हुए हैं, जिन्हें सबसे ज्यादा पसंद किया गया है वहीं कवियों की बात की जाए तो मुंशी प्रेमचंद द्वारा लिखी गई गोदान उपन्यास सबसे लोकप्रिय मानी गई है।

गोदान उपन्यास

गोदान उपन्यास

गोदाना उपन्यास भारतीय किसान का एक संपूर्ण जीवन और उसके आकांक्षा और उसकी निराशा को भलीभांति तरीके से दर्शाया गया। यह हिंदी में लिखा गया साहित्य है, जिसे आज भी लोगों द्वारा काफी पढ़ा जाता है। गोदान में बहुत सी बातें कही गई है। प्रेमचंद ने अपने संपूर्ण जीवन के व्यंग और विनोद वेदना वैराग्य और अनुभव को इसी एक उपन्यास में भर दिया है। कई आलोचकों को इसी कारण उसमें अस्त-व्यस्त था भी मिलती है, लेकिन जब भी कोई से पड़ता है तो यह काफी लोगों को पसंद आता है।

गोदान आज के आधुनिक भारतीय साहित्य के सबसे महान हिंदुस्तानी उपन्यासों में से एक माना गया है। यह प्रेमचंद का अंतिम पूर्ण उपन्यास था। यह औपनिवेशिक भारत में सामाजिक-आर्थिक अभाव के साथ-साथ गरीबों के शोषण के इर्द-गिर्द आधारित है।

प्रेमचन्द के बारे में

आपको बता दे की, प्रेमचन्द का जन्म हुआ वह युग सामाजिक-धार्मिक रुढ़िवाद से भरा हुआ था। इस रुढ़िवाद से स्वयं प्रेमचन्द भी प्रभावित हुए। जब अपने कथा-साहित्य का सफर शुरु किया अनेकों प्रकार के रुढ़िवाद से ग्रस्त समाज को यथाशक्ति कला के शस्त्र द्वारा मुक्त कराने का संकल्प लिया। अपनी कहानी के बालक के माध्यम से यह घोषणा करते हुए कहा कि “मैं निरर्थक रूढ़ियों और व्यर्थ के बन्धनों का दास नहीं हूँ।

See also  नैतिक कहानियाँ 2023, Best Moral Stories in Hindi for Student

प्रेमचन्द और शोषण का बहुत पुराना रिश्ता माना जा सकता है। क्योंकि बचपन से ही शोषण के शिकार रहे प्रेमचन्द इससे अच्छी तरह वाकिफ हो गए थे। समाज में सदा वर्गवाद व्याप्त रहा है। समाज में रहने वाले हर व्यक्ति को किसी न किसी वर्ग से जुड़ना ही होगा।

गोदान में क्या दर्शाया गया है?

गोदान में शासन के अंतर्गत किसान का महाजनी व्यवस्था में चलने वाले निरंतर शोषण तथा उससे उत्पन्न संत्रास की कथा को दर्शाया गया है। गोदान का नायक होरी एक किसान है जो किसान वर्ग के प्रतिनिधि के तौर पर मौजूद है। ‘आजीवन दुर्धर्ष संघर्ष के बावजूद उसकी एक गाय की आकांक्षा पूर्ण नहीं हो पाती’। गोदान भारतीय कृषक जीवन के संत्रासमय संघर्ष की कहानी है।

‘गोदान एक हीरो की कहानी है, जिसमे होरी की जो जीवन भर मेहनत करता है, अनेक कष्ट सहता है, केवल इसलिए कि उसकी मर्यादा की रक्षा हो सके और इसीलिए वह दूसरों को प्रसन्न रखने का प्रयास भी करता है, किंतु उसे इसका फल नहीं मिलता और अंत में मजबूर होना पड़ता है, फिर भी अपनी मर्यादा नहीं बचा पाता है।

इस तरह से वह अपना पूरा जीवन जप-तप के अपने जीवन को ही होम कर देता है। यह होरी की कहानी नहीं, उस काल के हर भारतीय किसान की आत्मकथा है और इसके साथ जुड़ी है शहर की प्रासंगिक कहानी। ‘गोदान’ में उन्होंने ग्राम और शहर की दो कथाओं का इतना यथार्थ रूप और संतुलित मिश्रण प्रस्तुत किया है। दोनों की कथाओं का संगठन इतनी कुशलता से हुआ है कि उसमें प्रवाह आद्योपांत बना रहता है। प्रेमचंद की कलम की यही विशेषता है।

See also  Rich Dad Poor Dad in Hindi

गोदान उपन्यास हिंदी PDF

Download Link

Similar Posts